http://WWW.DRPARDEEPAGGARWAL.COM
AGGARWALDAWAKHANA 5a8673cf66b54e05382d485a False 34 0
OK
background image not found
Found Update results for
'pardeep aggarwal'
9
#केजरीवाल_सरकार_फर्जीवाड़ा_करने_वालों_की सरकार है ✍Dr.Pardeep Aggarwal (Spokesperson INTUC) नई दिल्ली(चीफ ब्यूरो14 मई) इंडियन नेशनल ट्रेड यूनियन कांग्रेस के अध्यक्ष श्री दिनेश सुंदरियाल, युवा इंटुक अध्यक्ष वरिन्दर फूल व स्पोक्सपर्सन डा प्रदीप अग्रवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में एक पत्रकार सम्मेलन सांझ बयान जारी करते हुए कहा कि अरविंद केजरीवाल सरकार घोटालों की सरकार है और अभी पुनः इस सरकार का कंसट्रक्शन लेबर फंड घोटाला सामने आया है। पत्रकार वार्ता में दिनेश सुंदरियाल ने कहा की केजरीवाल सरकार जिस तरह कभी दलितों, श्रमिक मजदूरों, नागरिक संगठनों के लिये नियोजित फंड का दुरूपयोग करती रही है वह दिल्ली की जनता ने गत 3 साल में देखा है पर आज जो कंस्ट्रक्शन लेबर फंड घोटाला सामने आया है उसके बाद यह स्पष्ट हो गया है कि केजरीवाल सरकार फर्जीवाड़ा करने वालों की सरकार है। राष्ट्रीय युवा इंटुक प्रधान वरिन्दर फूल ने कहा कि कंस्ट्रक्शन लेबर फंड घोटाले के मामले में दर्ज पुलिस एफ.आई.आर. से स्पष्ट होेता है कि केजरीवाल सरकार ने फर्जीवाड़ा करके अपने कार्यकर्ताओं को पहले मजदूरों के रूप में नामांकित किया फिर इन फर्जी मजदूरों के नाम पर लेबर बोर्ड पंजीकृत किया और असल मजदूरों के हकों को मारते हुये अपने इन मजदूर रूपी कार्यकर्ताओं को लेबर फंड से मिलने वाले आर्थिक लाभ बांटे हैं। उन्होंने कहा कि यह खेद का विषय है कि अरविंद केजरीवाल सरकार ने लेबर वेल्फेयर फंड का दुरूपयोग अपनी पार्टी का कैडर विस्तार करने के लिये किया है जिसके लिये प्रत्यक्ष रूप से मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया एवं श्रम मंत्री गोपाल राय जिम्मेदार हैं। इंटुक मांग करती है कि इस फर्जी लेबर बोर्ड को अविलंब भंग किया जाये। इंटुक प्रवकता डॉ प्रदीप अग्रवाल कहा इससे पूर्व भी हमने देखा कि इस सरकार ने भवन श्रमिक मजदूरों एवं दलित उत्थान के लिये निश्चित फंड का दुरूपयोग किया और दिल्ली में अपने विधायकों के माध्यम से नकली आरडब्ल्यूए बनाकर विकास फंड की हेराफेरी करने का भी प्रयास किया था प्रवकता ने कहा कि कांग्रेस इंटुक संगठन इस गंभीर घोटाले पर ए.सी.बी. अधिकारियों से मिलकर त्वरित कार्यवाही की मांग करेगा और हम इस मामले को श्रमिक संगठनों के बीच भी लेकर जायेंगे। डॉ प्रदीप अग्रवाल ने कहा कि केजरीवाल सरकार प्रारम्भ से ही मजदूर विरोधी है और गरीबों के कल्याण के लिये केवल वे ही कार्यक्रम चलाती है जिनसे उन्हें एक वोट बैंक की तरह प्रयोग कर सके पर असल में सरकार मजदूरों के कल्याण के लिये उनके परिवारों की शिक्षा उत्थान के लिये कोई कार्य नहीं करती है। उन्होंने कहा कि इस फर्जी लेबर बोर्ड के माध्यम से लगभग 140 करोड़ रूपये की हेराफेरी का प्रारम्भिक अनुमान है और इसके दोषियों पर सख्त कार्यवाही आवश्यक है। ✍Dr.Pardeep Aggarwal (Spokesperson INTUC) Page Like Share post link https://www.facebook.com/drpardeepaggarwal/
*देश के संविधान लोकतंत्र के मंदिर को बचाने के लिए सभी विपक्षी पार्टीयो एक होना होगा* ✍Dr.Pardeep Aggarwal (Spokesperson INTUC) देश की जनता और सारी संवैधानिक संस्थाएँ, *मोदी, शाह भाजपा* द्वारा खुलेआम किए जा रहे *लोकतंत्र के मंदिर के चीर हरण* को देख रही है लोकतंत्र मंदिर होता है और नेता लोग इसके पुजारी जनता सारे भक्तगण चुनावी प्रसाद के नाम पर 15 लाख के वादे हैं, सपने हैं, आश्वसन है, भाषण है भाजपा लोकतंत्र के मंदिर की हत्या करने में लगा है मंदिर को तोड़ा जा रहा है भाजपा नेताओं ने इतना भ्रष्टाचार किया बेईमानी की कालेधन से विधायको को 100 100 करोड़ों रुपये में खरीद रही है भाजपा के पास *104 विधायक* है, और वो जबरदस्ती सरकार बना ली है, और सबसे आश्चर्य की बात कि *राज्यपाल, प्रधान मंत्री* और सारे कैबिनेट मंत्री भी इस चीर हरण मंदिर को तोड़ने में शामिल है कर्नाटका में *जेडीएस और कांग्रेस गठबंधन* को 116 सीट का सीधा-सीधा बहुमत है राज्यपाल केंद्र के इशारे पर एक अल्पमत की सरकार को खरीद-फरोख्त पर रोक करने के लिए और भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने के 15 दिनों का समय दे रहे हैं तो *लोकतंत्र के लिए सबसे खतरनाक खेल खेला जा रहा है* पिछले कुछ सालो से भाजपा ने गोआ मेघालय बिहार देश मे तानाशाही से सरकारे बनाई और कर्नाटक की सरकार भारतीय जनता पार्टी की बुनियाद हिला देंगी और पूरे भारत में जनता को जन आक्रोश है और जन आंदोलन की तैयारी है और विपक्षी एकता की शुरुआत हो चुकी है क्योंकि न्याय और लोकतंत्र की हत्या और सूटकेस की राजनीत से आम गरीब मजदूर किसान भाजपा की तानाशाही से तंग आ चुका है और निश्चित रूप देश की जनता ने भाजपा के अहंकार भ्रष्टाचार अत्याचार और संविधान की धज्जियां उड़ाने के कारण मुह मोड़ लिया है हम लोगो को सभी विपक्षी पार्टीयो कोअपने देश के संविधान लोकतंत्र के मंदिर को बचाने के लिए एक होना होगा✍Dr.Pardeep Aggarwal (Spokesperson INTUC) Page Like Share post link https://www.facebook.com/drpardeepaggarwal/
*कांग्रेस है तो देश एक है* ✍Dr.Pardeep Aggarwal कांग्रेस सरकार ने इस देश को बनाया है, इस देश का निर्माण किया हैं कांग्रेस की सबसे बड़ी उपलब्धि है कि हिंदुस्तान की जनता को कांग्रेस ने *समानता का अधिकार* दिया जहा एक तरफ भाजपा और आरएसएस जैसी संस्थाए जातिवाद धर्मवाद करती है तो कांग्रेस ने सभी समान स्थिति का अधिकार दिया. *हर वर्ग का आदमी* अपनी बात को रख सकता है *निचले तबके के लोग भी उच्च शिक्षा* प्राप्त कर सकते हैं *गरीब परिवार को सशक्त* बनाने का इसमे प्रावधान शामिल हैं आज समानता का अधिकार के कारण ही देश विकासशील है जिस दिन *समानता के अधिकार* का हर विभाग मे सही तरीके से क्रियान्वयन हो गया तो हमारा हिंदुस्तान विकसित राष्ट्र बहुत जल्द बनेगा. इसलिये आइये कांग्रेस का फिर से दामन थामते हो सच्चाई का साथ देते हैं मेरी बात से सहमत है तो पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा मित्रों दोस्तो रिश्तेदारों को शेयर करे To follow the updates of Senior Congress leader ✍Dr.Pardeep Aggarwal Page Like Share post link https://www.facebook.com/drpardeepaggarwal/
*चंदे का खेल समझिए और तेल का खेल* ✍Dr Pardeep Aggarwal कांग्रेस को पूरे देश से कुल चंदा मिला लगभग 42 करोड़, और बीजेपी को मिला कुल 532 करोड़। यानि 10 गुना से ज्यादा। ये तो हुआ घोषित आंकड़ा (एबीपी न्यूज़) इसके अलावा अघोषित यानि छिपे चंदे अडानी, अंबानी जैसो के जो बीजेपी को दिए जाते हैं रैलियों, रोड शो, खर्च खराबे ठाठबाट से अंदाजे ही लगाऐं तो हो जाता है कांग्रेस के मुकाबले करीब 1हजार गुना ऐसा क्यों❓ मै तथ्यों पर लिख रहा हूं कोई कांग्रेसी प्रवक्ता बनकर नही..देश की सबसे पुरानी पार्टी से ये चंदा देने वाले इतने चिढ़े क्यों है। जबाब बहुत सीधा है, इन सेठों को जनता को लूटने के जो मौके बीजेपी दे रही है, वो कांग्रेस ने कभी नहीं दिए। एक उदाहरण दे रहा हूं गुजरात के जामनगर मे रिलायंस की तेल रिफाइनरी शुरू होने के बावजूद मनमोहन सरकार ने 10 साल तक रिलायंस के पेट्रोल पंप बंद रहे। रिलायंस के बंबई और बाकी जगहों के समुंदर से तेल निकालने के बावजूद। मनमोहन सिंह ने दो टूक मे अंबानी को जवाब दिया था कि, तुम्हारा स्वदेशी पेट्रोल है, सस्ते दामों पर देना होगा बाकी बाजार के मुकाबले क्योंकि वो बाहर से लाकर किराया-भाड़ा खर्च कर देते हैं। अंबानी ने पूरे 10 साल अपने पेट्रोल पंपो को बंद रखा और सारा तेल विदेशों को बेचा। रिलायंस के पेट्रोल पंप खुले 2014 मे, मोदी सरकार के आने के बाद और इससे कहीं ज्यादा गड़बडिय़ां अडानी ने की है। पतंजलि का तो सब जानते हैं, बाकी भी सब ऐसे ही हैं.. इसीलिए ये सब क्यों देंगे कांग्रेस को चंदा, अपनी आफत बुलाने❗ *जय हिंद जय भारत* *सहमत है* To follow the updates of senior congress leader ✍Dr Pardeep Aggarwal Page Like Share post link https://www.facebook.com/drpardeepaggarwal/
*HAPPY FATHER 'S DAY* ✍Dr.Pardeep Aggarwal मैं मानता हूं कि एक माँ को ईश्वर का रूप माना जाता है पर एक पिता बिना भी जिंदगी अधूरी होती है वो बाप जो सपने देखता है अपने बच्चों की खुशी के लिए दिन रात मेहनत करता है पूरे परिवार के लिए है खुद तंग रहकर अपने परिवार वालों को किसी भी दिक्कत में नहीं आने देता जिंदगी भर बस अपने परिवार के लिए सोचता है पैसा कमाना बहुत मुश्किल काम है, लेकिन फिर भी पैसा कमा कर अपने लिए नहीं , अपने परिवार के लिए सब कुछ करता है उसे पिता Dad कहते हैं . मैं SALUTE करता हूं इस दुनिया के सभी पापा को जो अपने बच्चों के लिए जमीन आसमान एक कर देते हैं बच्चों की परवरिश के लिए एक बाप के सीने में हजारों ख्वाब होते हैं अपने परिवार के लिए अपने बच्चों के लिए जो वह दिल ही दिल में रखता है बहुत कम शेयर करता है उसके गुस्से में भी ढेर सारा प्यार छुपा होता है अपने परिवार की खुशी के लिए खुद अपनी जेब खाली कर देता है बस अपने बच्चों के लिए एक पिता भी रब का दूसरा रूप होता है आज FATHER 'S DAY पर मैंं उन सभी बच्चों को उन सभी लोगों से हाथ जोड़कर गुजारिश करता हूं जो अपने मां बाप को अनाथ आश्रम छोड़ आते हैं या छोड़ दिया है कृपा अपने मां बाप को समझो उनके गुस्से में भी बहुत सारा प्यार छुपा होता है मां बाप के बिना एक घर घर नहीं होता बस एक मकान ही है जो अपने मां-बाप को खुश नहीं रखता वो कभी जिंदगी में सफल नहीं हो सकता जब आप सब उनके किरदार में आओगे यानी कि उस उमर में आओगे तो फिर एहसास होगा कि एक बाप की कीमत एक बाप की अहमियत जिंदगी में क्या होती है मां बाप जिंदगी में दोबारा नहीं मिलते मां-बाप का हमेशा आदर करना चाहिए To follow the updates of Senior Congress leader ✍Dr.Pardeep Aggarwal Page Like Share post link https://www.facebook.com/drpardeepaggarwal/
*मोदी का हाफिज गैंग* ✍Dr.Pardeep Aggarwal *पोस्ट को ध्यान से पढ़े और सच्चाई को देश की जनता तक भेजे समझ लगे तो ज्यादा से ज्यादा शेयर करे* कश्मीर से भगोड़ेपन से ध्यान भटकाने के लिए मीडिया में अचानक सौज़ साहब की किसी निजी राय को लेकर चर्चा शुरू हो गई। इसी बीच सरहद पार से एक लैटर मोदीजी की पार्टी ने सार्वजनिक कर दिया और बताया कि लश्कर *Ghulam Nabi Azad* का समर्थन कर रहा है लेकिन भूल गए कि मोदीजी ने जब अपने शपथ ग्रहण में नवाज़ शरीफ़ को बुलाने की ज़िद पकड़ ली थी तो सभी विदेशी मामलो के जानकारों ने मना किया था। पद प्राप्ति के बाद वैदिक साहब एक संदेश लेकर जाते है जिसका विवरण वहां के पत्रकारों के बयान के आधार पर- वैदिकजी को और मणिशंकर अय्यर जी को एक सेमिनार में भाग लेने के बहाने लाहौर बुलाया जाता हैं और तीन दिन का वीज़ा दिया जाता हैं ( एजेंसियों द्वारा सम्पर्क और सहायता का यही फार्मूला है। याद करे कि जब आम आदमी पार्टी को खड़ा करना था तो कुमार विश्वास विदेशो में बहुत कवि सम्मेलन और मुशायरो में जाते थे) वहां जाकर वैदिकजी मणिशंकर अय्यर को अपने आने की असलियत बताते है और अय्यर साहब मौके की नजाकत और छुपी हुई मंशा भांप कर अगले दिन ही वापिस लौट आते है। मालूम होता है कि हाफिज सईद बाहर है और दस दिन बाद लौटेगा। वैदिकजी अपने वीज़ा की अवधि 15 दिन बढ़वा लेते हैं जो बना किसी दिक्कत के बढ़ जाती हैं जबकि कोई कारण होना जरूरी होता है। गुलबर्ग 3 और गिल मौहल्ले के बाहर नसीराबाद मेट्रो के कोने पर पान की दुकान पर वहां के एजेंट इन्हें अपनी गाड़ी में उठाते हैं और हाफ़िज़ की मेहमान नवाजी के लिए पहुचा दिया जाता हैं। वहां की मीडिया में चर्चा के अनुसार वैदिकजी पपु श्री मोदीजी का संदेश देते है और आश्वासन लेते हैं कि मोदीजी की पाकिस्तान यात्रा के समय कोई विरोध नही किया जाएगा। *कुछ गौर करने लायक घटनाएं* 1- जब भी मोदी सरकार किसी संकट में होती हैं या सवाल खड़े हो सकते है तभी हाफिज सईद सीमा पार कश्मीर में रैली करता है और उसकी फुटेज फौरन हमारे मीडिया को उपलब्ध भी हो जाती हैं। ( जबकि पाकिस्तानी मीडिया पर इसकी कवरिंग और प्रसारण पर कानूनी पाबन्दी है) *जब भी बीजेपी को चुनावी फायदे के लिए हिन्दू-मुस्लिम या भारत-पाक करना होता है तो उसी समय कोई पत्र या प्रेस नोट* जारी हो जाता हैं और कांग्रेस को बीच में घसीट लिया जाता हैं। *ये खुला सच है कि बीजेपी की अंदरूनी राजनीति* में मोदीजी और राजनाथसिंह आमने सामने है क्या कारण है कि राजनाथसिंह की इस्लामाबाद यात्रा के समय उन्हें काले झंडे दिखाए जाते है और सरकार कोई विरोध दर्ज नही कराती। *गुस्से और घबराहट* में व्यक्ति अपने अंतर्मन की भाषा बोलता है ""कल श्री रविशंकर जी ने हाफ़िज़ जी"" शब्द का प्रयोग किया। *क्या कारण कि केरल* की लड़की यदि किसी मुस्लिम से शादी करती हैं तो NIA की जांच होती हैं लेकिन वैदिक पर सरकार चुप है। *नवाज़ शरीफ़ पर मोदीजी* के माध्यम से भारत में पूंजी निवेश का आरोप लगा है और NAB में केस दर्ज कराया गया है लेकिन हमारी सरकार चुप है? ✍Dr.Pardeep Aggarwal Spokesperson INTUC Page Like Share post link https://www.facebook.com/drpardeepaggarwal/
Dr. Pardeep Aggarwal Dr. Aggarwal is the leading spokesperson & Political Secretary to National President INTUC.
Dr. Pardeep Aggarwal contact us 9872542777 for any kind of help Dr. Aggarwal always raise his voice against corruption, discrimination, dowry, injustice, illiteracy and unemployment. Modi Government is not serious about those concerns.
*मीठा छोडे एक महीने के लिए देखिए फर्क आप खुद महसूस करने लगेंगे ये आयेंगे आपके शरीर मे बदलाव* May 19, 2018 आयुर्वेदा नेचुरोपैथी एक्सपर्ट डॉ प्रदीप अग्रवाल ने आज लोगो को संदेश देते होये कहा कि आप लोग *चीनी मीठे का सेवन* आपने दिनचर्या में बंद कर दे एक महीने के लिए देखेगे अपने आप में खुद महसूस करने लगेंगे और आयेंगे आपके शरीर मे बदलाव मीठा मेटाबॉलिज्म को बढ़ाता है और आपके शरीर को ऊर्जा मिलती है। मीठा खाना लगभग हर किसी को पसंद होता है, यह जानते हुए भी कि आजकल के दौर में हम शारीरिक तौर पर ज्यादा मेहनत नहीं करते फिर भी मीठा तो बहुत से लोगों की वीकनेस है। वैसे इस श्रेणी में मैं भी शामिल हूं। *खाने के बाद मीठा तो जरूर चाहिए* मौसम अच्छा हो तो मीठा चाहिए, गर्मी ज्यादा हो तो मिल्कशेक चाहिए, ठंड हो तो जलेबी या गर्मागर्म हलवा चाहिए। बाकी बिना किसी अवसर के भी कभी-कभी मीठा खाया जाए तो कोई क्या प्रॉब्लम है। *बिना मीठे के भोजन लेकिन क्या कभी आपने ये सोचा है* अगर खाने से मीठे की मात्रा हटा ली जाए, आपके भोजन से चीनी को पूरी तरह गायब कर दिया जाए तो शरीर पर किस तरह के प्रभाव देखने को मिलते हैं? नहीं सोचा तो चलिएआज मै आपको बता देता हु कि अगर आप आने वाले एक महीने तक चीनी को अलविदा कह देते हैं इससे आपको शारीरिक या मानसिक रूप से क्या अंतर देखने को मिलता है। *आपके दिल की सेहत बहुत अच्छी रहती है* आपका दिल शरीर का सबसे संवेदनशील भाग होता है। इस वजह से उसे कहीं ज्यादा आपकी केयर की जरूरत होती है। अगर आप अपनी दिनचर्या से चीनी को हटा देंगे तो यकीन मानिए इससे आपके दिल को बहुत आराम मिलेगा और साथ ही वह और जवान रहेगा। *आपकी त्वचा पर भी इसका स्पष्ट असर नजर आएगा* वह स्वस्थ और चमकदार तो बनेगी ही साथ ही साथ अगर आपाके चेहरे पर गड्ढे या खुस्ले छिद्र हैं तो वो भी गायब हो जाएंगे। आप जितनी चाहे क्रीम, लोशन या फिर अन्य दवाइयां उपयोग कर लीजिए, सबसे बेहतरीन असर आपको चीनी छोड़ने के बाद ही मिलेगा। *मीठा ज्यादा खा लेने की वजह से नींद भी सही से नहीं आती* आपने खुद ये नोटिस किया होगा कि जिस रात आप मीठा ज्यादा खा लेते हैं, उस रात नींद आने में परेशानी होती है। कई बार स्थिति इनसोमनिया तक पहुंच जाती है। इसलिए आपको मीठा कम से कम ही खाना चाहिए इससे आपकोआराम की नींद आएगी *वे लोग जो अपने भोजन में मीठे की मात्रा कम रखते हैं उनके चेहरे पर उम्र की परछाई बहुत देर से पड़ती है* ज्यादा चीनी खाने से चेहरे की त्वचा में सूजन आने लगती है, आपका चेहरा झुर्रियों से मुक्त तभी रहेगा जब आप मीठा खाने की आदत को कम कर देंगे। *मीठा छोड़ने से वजन तो कम होगा मोटापे से भी मुक्ति* ये सबसे बड़ा कारण है कि आपको आज ही मीठे खाद्य पदार्थों को से दूरी रखनी शुरू कर देनी चाहिए। *मीठा छोड़ने के बाद आपकी याद्दाश्त भी बढ़ती है* आपके बोलचाल का तरीका प्रभावी होता है और आप सामने वाले की बात बड़ी आसानी और स्पष्ट तरीके से समझ सकते हैं। *मीठे की मात्रा कम रखने से आप मधुमेह से भी बचते हैं* अगर कभी आपका मीठा खाने का मन करे तो आप मेवे खाकर अपनी क्रेविंग शांत कर सकते हैं। *आपकी आंते अच्छे तरीके से काम करने लगती हैं* जब आप अपने खाने से मीठा हटा लेते हैं तो खाना ना सिर्फ आसानी से पचता है बल्कि वह आपके पेट और आंतों को नुकसान भी नहीं पहुंचाता। *आपके शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है* बस आपको एक बार अपने मस्तिष्क को इस बात के लिए राजी करना है कि अब से आप मीठा नहीं खाएंगे। खुद देखिएगा कि किस तरह आप संक्रमण और अन्य बीमारियों से खुद को बचा लेते हैं। *मीठा छोड़ने के बाद ना सिर्फ आपको मानसिक रूप से सुकून मिलेगा बल्कि आपके दांत और मसूड़े भी ज्यादा स्वस्थ रहेंगे* आपको एक बात का ध्यान अवश्य रखना चाहिए कि मीठा खाने के तुरंत बाद कभी ब्रश ना करें क्योंकि इस समय आपके मसूड़े बहुत ज्यादा सॉफ्ट होते हैं। उन्हें नुकसान पहुंच सकता है। अगर आपको *जोड़ों के दर्द* की शिकायत रहती है तो एक बार आप चीनी छोड़कर देखिए। आपको फर्क अपने आप ही नजर आयेगा *इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर करे आपके मित्र रिस्तेदार के स्वास्थ्य के लिए खुश रहे मुस्कराते रहे😊* https://www.facebook.com/drpardeepaggarwal/
1
false