http://WWW.DRPARDEEPAGGARWAL.COM
AGGARWALDAWAKHANA 5a8673cf66b54e05382d485a False 34 0
OK
background image not found
Found Update results for
'spokesperson intuc'
6
#केजरीवाल_सरकार_फर्जीवाड़ा_करने_वालों_की सरकार है ✍Dr.Pardeep Aggarwal (Spokesperson INTUC) नई दिल्ली(चीफ ब्यूरो14 मई) इंडियन नेशनल ट्रेड यूनियन कांग्रेस के अध्यक्ष श्री दिनेश सुंदरियाल, युवा इंटुक अध्यक्ष वरिन्दर फूल व स्पोक्सपर्सन डा प्रदीप अग्रवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में एक पत्रकार सम्मेलन सांझ बयान जारी करते हुए कहा कि अरविंद केजरीवाल सरकार घोटालों की सरकार है और अभी पुनः इस सरकार का कंसट्रक्शन लेबर फंड घोटाला सामने आया है। पत्रकार वार्ता में दिनेश सुंदरियाल ने कहा की केजरीवाल सरकार जिस तरह कभी दलितों, श्रमिक मजदूरों, नागरिक संगठनों के लिये नियोजित फंड का दुरूपयोग करती रही है वह दिल्ली की जनता ने गत 3 साल में देखा है पर आज जो कंस्ट्रक्शन लेबर फंड घोटाला सामने आया है उसके बाद यह स्पष्ट हो गया है कि केजरीवाल सरकार फर्जीवाड़ा करने वालों की सरकार है। राष्ट्रीय युवा इंटुक प्रधान वरिन्दर फूल ने कहा कि कंस्ट्रक्शन लेबर फंड घोटाले के मामले में दर्ज पुलिस एफ.आई.आर. से स्पष्ट होेता है कि केजरीवाल सरकार ने फर्जीवाड़ा करके अपने कार्यकर्ताओं को पहले मजदूरों के रूप में नामांकित किया फिर इन फर्जी मजदूरों के नाम पर लेबर बोर्ड पंजीकृत किया और असल मजदूरों के हकों को मारते हुये अपने इन मजदूर रूपी कार्यकर्ताओं को लेबर फंड से मिलने वाले आर्थिक लाभ बांटे हैं। उन्होंने कहा कि यह खेद का विषय है कि अरविंद केजरीवाल सरकार ने लेबर वेल्फेयर फंड का दुरूपयोग अपनी पार्टी का कैडर विस्तार करने के लिये किया है जिसके लिये प्रत्यक्ष रूप से मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया एवं श्रम मंत्री गोपाल राय जिम्मेदार हैं। इंटुक मांग करती है कि इस फर्जी लेबर बोर्ड को अविलंब भंग किया जाये। इंटुक प्रवकता डॉ प्रदीप अग्रवाल कहा इससे पूर्व भी हमने देखा कि इस सरकार ने भवन श्रमिक मजदूरों एवं दलित उत्थान के लिये निश्चित फंड का दुरूपयोग किया और दिल्ली में अपने विधायकों के माध्यम से नकली आरडब्ल्यूए बनाकर विकास फंड की हेराफेरी करने का भी प्रयास किया था प्रवकता ने कहा कि कांग्रेस इंटुक संगठन इस गंभीर घोटाले पर ए.सी.बी. अधिकारियों से मिलकर त्वरित कार्यवाही की मांग करेगा और हम इस मामले को श्रमिक संगठनों के बीच भी लेकर जायेंगे। डॉ प्रदीप अग्रवाल ने कहा कि केजरीवाल सरकार प्रारम्भ से ही मजदूर विरोधी है और गरीबों के कल्याण के लिये केवल वे ही कार्यक्रम चलाती है जिनसे उन्हें एक वोट बैंक की तरह प्रयोग कर सके पर असल में सरकार मजदूरों के कल्याण के लिये उनके परिवारों की शिक्षा उत्थान के लिये कोई कार्य नहीं करती है। उन्होंने कहा कि इस फर्जी लेबर बोर्ड के माध्यम से लगभग 140 करोड़ रूपये की हेराफेरी का प्रारम्भिक अनुमान है और इसके दोषियों पर सख्त कार्यवाही आवश्यक है। ✍Dr.Pardeep Aggarwal (Spokesperson INTUC) Page Like Share post link https://www.facebook.com/drpardeepaggarwal/
*देश के संविधान लोकतंत्र के मंदिर को बचाने के लिए सभी विपक्षी पार्टीयो एक होना होगा* ✍Dr.Pardeep Aggarwal (Spokesperson INTUC) देश की जनता और सारी संवैधानिक संस्थाएँ, *मोदी, शाह भाजपा* द्वारा खुलेआम किए जा रहे *लोकतंत्र के मंदिर के चीर हरण* को देख रही है लोकतंत्र मंदिर होता है और नेता लोग इसके पुजारी जनता सारे भक्तगण चुनावी प्रसाद के नाम पर 15 लाख के वादे हैं, सपने हैं, आश्वसन है, भाषण है भाजपा लोकतंत्र के मंदिर की हत्या करने में लगा है मंदिर को तोड़ा जा रहा है भाजपा नेताओं ने इतना भ्रष्टाचार किया बेईमानी की कालेधन से विधायको को 100 100 करोड़ों रुपये में खरीद रही है भाजपा के पास *104 विधायक* है, और वो जबरदस्ती सरकार बना ली है, और सबसे आश्चर्य की बात कि *राज्यपाल, प्रधान मंत्री* और सारे कैबिनेट मंत्री भी इस चीर हरण मंदिर को तोड़ने में शामिल है कर्नाटका में *जेडीएस और कांग्रेस गठबंधन* को 116 सीट का सीधा-सीधा बहुमत है राज्यपाल केंद्र के इशारे पर एक अल्पमत की सरकार को खरीद-फरोख्त पर रोक करने के लिए और भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने के 15 दिनों का समय दे रहे हैं तो *लोकतंत्र के लिए सबसे खतरनाक खेल खेला जा रहा है* पिछले कुछ सालो से भाजपा ने गोआ मेघालय बिहार देश मे तानाशाही से सरकारे बनाई और कर्नाटक की सरकार भारतीय जनता पार्टी की बुनियाद हिला देंगी और पूरे भारत में जनता को जन आक्रोश है और जन आंदोलन की तैयारी है और विपक्षी एकता की शुरुआत हो चुकी है क्योंकि न्याय और लोकतंत्र की हत्या और सूटकेस की राजनीत से आम गरीब मजदूर किसान भाजपा की तानाशाही से तंग आ चुका है और निश्चित रूप देश की जनता ने भाजपा के अहंकार भ्रष्टाचार अत्याचार और संविधान की धज्जियां उड़ाने के कारण मुह मोड़ लिया है हम लोगो को सभी विपक्षी पार्टीयो कोअपने देश के संविधान लोकतंत्र के मंदिर को बचाने के लिए एक होना होगा✍Dr.Pardeep Aggarwal (Spokesperson INTUC) Page Like Share post link https://www.facebook.com/drpardeepaggarwal/
Dr. Pardeep Aggarwal Dr. Aggarwal is the leading spokesperson & Political Secretary to National President INTUC.
*मोदी का हाफिज गैंग* ✍Dr.Pardeep Aggarwal *पोस्ट को ध्यान से पढ़े और सच्चाई को देश की जनता तक भेजे समझ लगे तो ज्यादा से ज्यादा शेयर करे* कश्मीर से भगोड़ेपन से ध्यान भटकाने के लिए मीडिया में अचानक सौज़ साहब की किसी निजी राय को लेकर चर्चा शुरू हो गई। इसी बीच सरहद पार से एक लैटर मोदीजी की पार्टी ने सार्वजनिक कर दिया और बताया कि लश्कर *Ghulam Nabi Azad* का समर्थन कर रहा है लेकिन भूल गए कि मोदीजी ने जब अपने शपथ ग्रहण में नवाज़ शरीफ़ को बुलाने की ज़िद पकड़ ली थी तो सभी विदेशी मामलो के जानकारों ने मना किया था। पद प्राप्ति के बाद वैदिक साहब एक संदेश लेकर जाते है जिसका विवरण वहां के पत्रकारों के बयान के आधार पर- वैदिकजी को और मणिशंकर अय्यर जी को एक सेमिनार में भाग लेने के बहाने लाहौर बुलाया जाता हैं और तीन दिन का वीज़ा दिया जाता हैं ( एजेंसियों द्वारा सम्पर्क और सहायता का यही फार्मूला है। याद करे कि जब आम आदमी पार्टी को खड़ा करना था तो कुमार विश्वास विदेशो में बहुत कवि सम्मेलन और मुशायरो में जाते थे) वहां जाकर वैदिकजी मणिशंकर अय्यर को अपने आने की असलियत बताते है और अय्यर साहब मौके की नजाकत और छुपी हुई मंशा भांप कर अगले दिन ही वापिस लौट आते है। मालूम होता है कि हाफिज सईद बाहर है और दस दिन बाद लौटेगा। वैदिकजी अपने वीज़ा की अवधि 15 दिन बढ़वा लेते हैं जो बना किसी दिक्कत के बढ़ जाती हैं जबकि कोई कारण होना जरूरी होता है। गुलबर्ग 3 और गिल मौहल्ले के बाहर नसीराबाद मेट्रो के कोने पर पान की दुकान पर वहां के एजेंट इन्हें अपनी गाड़ी में उठाते हैं और हाफ़िज़ की मेहमान नवाजी के लिए पहुचा दिया जाता हैं। वहां की मीडिया में चर्चा के अनुसार वैदिकजी पपु श्री मोदीजी का संदेश देते है और आश्वासन लेते हैं कि मोदीजी की पाकिस्तान यात्रा के समय कोई विरोध नही किया जाएगा। *कुछ गौर करने लायक घटनाएं* 1- जब भी मोदी सरकार किसी संकट में होती हैं या सवाल खड़े हो सकते है तभी हाफिज सईद सीमा पार कश्मीर में रैली करता है और उसकी फुटेज फौरन हमारे मीडिया को उपलब्ध भी हो जाती हैं। ( जबकि पाकिस्तानी मीडिया पर इसकी कवरिंग और प्रसारण पर कानूनी पाबन्दी है) *जब भी बीजेपी को चुनावी फायदे के लिए हिन्दू-मुस्लिम या भारत-पाक करना होता है तो उसी समय कोई पत्र या प्रेस नोट* जारी हो जाता हैं और कांग्रेस को बीच में घसीट लिया जाता हैं। *ये खुला सच है कि बीजेपी की अंदरूनी राजनीति* में मोदीजी और राजनाथसिंह आमने सामने है क्या कारण है कि राजनाथसिंह की इस्लामाबाद यात्रा के समय उन्हें काले झंडे दिखाए जाते है और सरकार कोई विरोध दर्ज नही कराती। *गुस्से और घबराहट* में व्यक्ति अपने अंतर्मन की भाषा बोलता है ""कल श्री रविशंकर जी ने हाफ़िज़ जी"" शब्द का प्रयोग किया। *क्या कारण कि केरल* की लड़की यदि किसी मुस्लिम से शादी करती हैं तो NIA की जांच होती हैं लेकिन वैदिक पर सरकार चुप है। *नवाज़ शरीफ़ पर मोदीजी* के माध्यम से भारत में पूंजी निवेश का आरोप लगा है और NAB में केस दर्ज कराया गया है लेकिन हमारी सरकार चुप है? ✍Dr.Pardeep Aggarwal Spokesperson INTUC Page Like Share post link https://www.facebook.com/drpardeepaggarwal/
Congratulations to my Dear eleder Brother Kunwar udhy Rathod Ji. With GOD's Blessing another milestone in his life from a smaller family to such a level. Today KunwarUdaySinghRathore ji is appointed as National general secretary of the Indian national trade union congress INTUC We are very much thankful to respected Rahul Gandhi Ji President INC , Smt Sonia Gandhi ji . Sh.Dinesh Sharma Sunderyal ji(INTUC National President), Randeep surjewala ji spokesman aicc. Digvijy Singh ji.devendra yadav ji sectray aicc.Oscar frandis ji, Sh.Motilal vohara ji cashier aicc Captian Amrinder Singh Ji CM Punjab , Sunil Jakhar Ji President PPCC , Sh Ravneet singh Bittu ji Mp, Sh. Balbir sidu Minister , Sh.Bhart BhushanAshu ji Cabinet Minister, Sh kamalnath ji President MP.. Sh Ashok gehlot ji org g.sectary Aicc.Asha kumari ji incharge Punjab, MLA Sanjay Talwar ji & Captain Sandeep Sandhu Ji Political Secretary cum OSD CM Punjab for showing faith & giving this sensitive task to Kunwar Rathod . We pledge here to fulfil the given duty with zeal & enthusiasm ....A
*मोदी सरकार पुण्य प्रसून बाजपेयी से डरी और वाजपेयी एबीपी से बाहर इसे कहते है अघोषित एमरजेंसी* ✍Dr.Pardeep Aggarwal Intuc Spokesperson देश में तानाशाही चरम पर है और यह मोदी सरकार द्वारा चलाई जा रही है। मोदी सरकार पत्रकारिता को तहस नहस कर के मीडिया से चाटूकारिता का नया अध्याय लिखवा रही है। यु ही विश्व प्रेस सूचकांक में भारत 138 वे स्थान पर नही है इससे बेहतर यही होगा कि मीडिया चैनलो का नाम बदलकर मोदी मुजरा चैनल कर दिया जाये ये है मुजरा मीडिया का स्तर अंजना ओम मोदी गुलाबी नोटों के माइक्रो चिप विशेषज्ञ तिहारी चौधरी, सड़ी श्वेता शर्मा आजतक, किसी राजनैतिक दल की जीत कैसे अंजना ओम मोदी के लियें बुरी खबर बन जाती है , दिव्य ज्ञानी छी न्यूज के तिहारी जिसे ये नही पता कि भगत सिंह कब मरा लेकिन ज्ञान भगत सिंह पर देंगे, यही है फासीवादी आपातकाल और जो लोग सरकार से सवाल पूछ रहे हैं उनको प्रताणित करके खामोश कर दिया जा रहा है। पिछले दिनो रामदेव से तीखे जवाब पूछ कर आजतक से विदा हुए पुन्य प्रसून बाजपेयी ने अब "एबीपी न्यूज़" से इस्तीफ़ा दे दिया है। उनका कम समय में मोदी सरकार की बघिया उधेड़ता बेहद बहुचर्चित शो "मास्टर स्ट्रोक" आज से प्रसारित नहीं होगा , वैसे इसी समय एबीपी न्यूज़ के चैनल की फ्रिक्वेन्सी बाधित करके "मास्टर स्ट्रोक" के प्रसारण को बाधित किया जा रहा था तभी से यह आभास था कि पुण्य प्रसून बाजपेयी ज्यादा दिन यह शो नहीं चला पाएँगे। बुधवार 1 अगस्त को ABP न्यूज़ के मैनेजिंग एडिटर और डिजिटल डिपार्टमेंट के हेड मिलिंद खांडेकर ने भी अपने पद से इस्तीफा दे दिया था , पुण्य प्रसून बाजपेयी को एबीपी में वही लाए जिसकी उनको कीमत चुकानी पड़ी। मोदी सरकार की सवाल पूछ कर धज्जियाँ उड़ा देने वाले पत्रकार अभिसार शर्मा को भी जबरदस्ती 15 दिन के लिए छुट्टी पर भेज दिया गया है और एबीपी न्यूज़ से सरकार से सवाल पूछने की हिम्मत करने वाले कुल 14 लोगो को बाहर कर दिया गया है। यही हाल रवीश कुमार का हुया , वह अब भी सरकार से सवाल ना पूछ कर सड़क ट्रेन और नौकरी की सिरीज चला रहे हैं। दरअसल इस निक्कमी सरकार से तीखे सवाल पूछने वाले सभी पत्रकारों को चुन चुन कर दंडित किया जा रहा है और इनके एजेन्डे पर चलकर हिन्दू-मुस्लिम मे ज़हर फैलाता शो करने वाले भरवाँ पत्रकार रोहित सरदाना , अमीष देवगन , सुधीर चौधरी , अर्नब गोस्वामी , अंजना ओम कश्यप , सुमित अवस्थी जैसे लोग इनकी चाटुकारिता का नया अध्याय लिख कर पत्रकारिता में नया मापदंड स्थापित कर रहे हैं। जब समाचार पत्र या चैनल का मालिक उद्योगपति होगा तो वह उद्योगपति सरकार के इशारे पर नाचेगा और उसका मीडिया समूह अपने मालिक के इशारे पर नाचेगा। Www.drpardeepaggarwal.com *आप तीन लोगो भेज दो और वो तीन लोग , अगले तीन लोगो को जरूर भेज देगे*
1
false